यशोदा दक्षिण भारत की आने वाली फिल्म है जिसमें खूबसूरत अभिनेत्री सामंथा ने शानदार अभिनय की है। फिल्म में सामंथा का नाम यशोदा है। फिल्म 9 दिसंबर को रिलीज़ होगी।

फिल्म के डायरेक्टर हरी और हरीश ने सामंथा को कास्ट किये है। फिल्म का प्रोडूसर शिवलेंका कृष्णा प्रसाद है तथा लेखक पुलगाम चिन्नारायना है।

फिल्म यशोदा की कहानी गांव से आये गरीब औरतों को आर्थिक विप्पनता के कारन अपने कोंख को आमिर लोगों को किराये पर देने होते है।

ये कहानी एक वास्तविक घटना पर आधारित है जो भारत के पशिचमी भागों में शुरुआत से यह कारोबार किया जाता है। आमिर लोगों द्वारा गांव से आये गरीब औरतों को इसका शिकार बनाते है।

    फिल्म की एक डायलॉग मुख्य महिला किरदारों में से एक कहती हैं, ‘राजा बनने के लिए युद्ध जीतने होते हैं, लेकिन रानी बनने के लिए सिर्फ एक राजा को जीतना होता है!’

फिल्म की कहानी को देखते हुए वॉलीवूड की कलाकारें शाहरुख़ खान, आमिर खान, शिल्पा शेट्ठी और करण जोहर ने किराये की कोख (सरोगेसी) टिप्पणी किये है।

फिल्म ‘यशोदा’ दो 2 ऐसी महिलाओं की कहानी है जिनके लिए स्त्री सशक्तिकरण के मायने दो अलग अलग विचारधाराओं से निकलते हैं। महिला शशक्तिकरण के दो रूप फिल्म में दिखाए है।

फिल्म ‘यशोदा’ दो ऐसी महिलाओं की कहानी है जिनके लिए स्त्री सशक्तिकरण के मायने दो अलग अलग विचारधाराओं से निकलते हैं। महिला शशक्तिकरण के दो रूप फिल्म में दिखाए है।

फिल्म में यशोदा अपनी छोटी बहन के इलाज के लिए अपनी गर्व को किराये पर देती है और जिस हॉस्पिटल में उसका कृत्रिम गर्वधान होती है हॉस्पिटल किसी फाइव स्टार हॉटेल इ कम नहीं रहता।

फिल्म में मेडिकल साइंस का काला करतूत दिखाया गया है किस कदर यह कारोबार पश्चिमी भरता के लोगो द्वारा अपनाया जाता है। फिल्म के डायरेक्टर हरी और हरीश की ये पहली फिल्म है जो वास्तविकता से होकर हिंदी भाषा में रिलीज़ होगी।