राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी (RTU) में लड़कियों से सेक्सुअल फेवर की मांग करने के आरोप में पुलिस ने प्रोफेसर गिरीश परमार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपी से काफी इन्क्वायरी की है। घटना को लेकर छात्रों में आक्रोश है।

दरअशल बात ये है, RTU में छात्रा को दबाव डाला जा रहा था की परीक्षा में पास होने के लिए उसे अपने प्रोफेसर गिरीश अग्गरवाल से सम्बन्ध बनाने होंगे।

पुलिस ने आरोपी से पूछताछ कर कोर्ट में भी पेस किये तथा न्यायिक प्रक्रिया के बाद उसे जेल भेज दिए। इसके साथ बिचौलिया छात्र अर्पित अग्गरवाल को भी दबोचा गया है।

प्रोफेसर परमार और अर्पित की बातचीत का एक ऑडियो भी सामने आया है।  इसमें स्टूडेंट्स को लेकर दोनों अभद्र बातचीत कर रहे हैं।

इस ऑडियों क्लिप में आरोपी कहता है की "देख लूंगा कैसे पास होती है" इसमें दूसरे छात्राओं का भी नाम लिया जा रहा है। यह एक दूसरे छत्र ने शेयर करके ऑडियो लिक कर दी।

इसी बीच 21 तारिक को एक और छात्रा ने आरोप लगाया और पुलिस के पास पहुंची।  उसने पुलिस से कहा, "प्रोफेसर परमार ने छात्र के जरिए उस पर भी शारीरिक संबंध बनाने के लिए दवाब डाला।

राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी (RTU) के प्रोफेसर के खिलाफ छात्रों में रोष है। छात्रों ने प्रोफेसर गिरीश परमार को बर्खास्त करने की मांग की है।

ABVP के पदाधिकारियों ने सीआई से मिलकर जल्द कार्रवाई की मांग की थी।

एक छात्रा ने बताई की यह मामला बहुत दिनों से चलते आए रहा था लेकिन किसी के पास कोई ठोस साबुत नहीं थी।

सभी तथ्यों को ध्यान में रखकर पुलिस प्रशासन आरोपी से लम्बी पूछताछ के बाद कोर्ट ले गया तथा न्यायधीशों के आदेशनुसार उसे सजा दी गयी।