यह मामला हजारीबाग का है एक महिला के बैंक अकाउंट से सायबर कैफ़े द्वारा 88 हजार रूपये उड़ा लिए गए। महिला ने इसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है।

सरिता कुमारी 19 नवंबर को एक साइबर कैफे पर गयी थी। ठीक 10 दिन पहले 29 अक्टूबर से 3 दिसंबर के बीच का यह मामला है।

बतया जाता है, महिला की खाता बैंक ऑफ़ इंडिया में है। वे 19 नवंबर को कोर्रा के सोनू साइबर कैफ़े से 5 हजार रूपये अंगूठा लगाकर निकाली थी।

 महिला ने बताया कि जब 16 दिसंबर को मेरे मोबाइल पर पैसे की निकासी का मैसेज आने लगा तो दंग हो गई।

जब महिला बैंक के टाटीझरिया शाखा पहुंचकर जब इसकी शिकायत किया तो पता चला कि जिस साइबर कैफे से 19 तारीख को रुपए की निकासी किया गया है, वहीं से 88 हजार की निकासी अलग-अलग तारीख से निकाली गई है।

28 नवंबर को दस-दस हजार करके तीन बार और फिर 1दिसंबर को दस-दस हजार रुपए करके 30 हजार रुपये निकाले। यानि टोटल 60 हजार।

दूसरी दिसंबर को 20 हजार, 3 दिसंबर को 8 हजार रुपए ,कुल मिलाकर 88 हजार रुपए उड़ा लिए गए।

 भुक्तभोगी ने कोर्रा थाना में इसकी लिखित शिकायत की है। पुलिस मामले की जाँच करके सोनू को दबोचा है।

तथा उसे हिरासत में लेके महिला के कुल रुपए लौटाने तथा परेशान करने के दंड में   उसे 3000 हजार तक का जुर्माना बाँधा है।

वही युवक को धारा 378 के तहत हिरासत में 6 महीने का सजा सुनाया है। महिला को धन वापस कर न्यायपूर्ण फैसला हुआ है।